Select Page
ईश्वरीय कण!

ईश्वरीय कण!

ईश्वरीय कण! प्रश्न:एकता जी, इस बात को थोड़ा और ठीक से समझाइये – “जागें और इस बात का अनुभव करें कि आप ‘स्वयं’ ही इस संपूर्ण विश्व का केंद्र हैं”। हम सब विश्व का केंद्र कैसे हो सकते हैं?उत्तर:कुछ प्रश्नों पर मनन करें। क्या आपके घर की दीवारों...